एक देश एक राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन कि प्रक्रिया

एक देश एक राशन कार्ड क्या है ऑनलाइन आवेदन कैसे करे इसकी सम्पुरण जानकारी क्या है

एक देश एक राशन कार्ड ऑनलाइन आवेदन  कि प्रक्रिया
One Nation One Ration

एक देश एक राशन कार्ड  One Nation One Ration

देश की वित् मंत्री निर्मला सीतारमण जी ने गुरुवार को इस योजना के तहत नई घोषणा की है | लॉक डाउन की वजह से देश के जो गरीब लोग परेशान है उन्हें इस नई घोषणा के ज़रिये राहत पहुंचाई जाएगी | इस वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के अंतर्गत देश के 23 राज्यों को 67 करोड़ लोगों को फायदा मिलेगा। पीडीएस योजना के 83 फीसदी लाभार्थी इससे जोड़े जाएंगे। इस योजना के तहत मार्च 2021 तक इसमें 100 फीसदी लाभार्थी जुड़ जाएंगे। देश के नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने राशन कार्ड के माध्यम से उचित मूल्य पर राशन की दुकान से राशन ले सकते हैं।

एक देश एक राशन कार्ड  Scheme

इस योजना को पायलट प्रोजेक्ट के तोर पर फ़िलहाल दो क्लस्टर राज्यों आंध्र प्रदेश -तेलंगाना और महाराष्ट्र -गुजरात में शुरू की गयी है इसके बाद अब आंध्र प्रदेश के लोग तेलंगाना में और तेलंगाना के लोग आंध्र प्रदेश में किसी भी राशन की दुकान से राशन ले सकते है इसी तरह महाराष्ट्र के लोग गुजरात में और गुजरात के लोग महाराष्ट्र में जाकर वहाँ की राशन की दुकान से राशन ले सकते है | आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से One Nation One Ration Card Scheme 2020 से जुडी सभी जानकारी प्रदान करने जा रहे है अतः हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े |एक देश एक राशन कार्ड योजना

एक देश एक राशन कार्ड टोल फ्री नंबर

देश के अगर किसी व्यक्ति को वन नेशन वन राशन योजना के अंतर्गत कोई परेशानी और असुविधा है और वह इस सम्बन्ध में कोई शिकायत करना चाहते है तो वह उनके लिए केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत टोल फ्री नंबर 14445 जारी किया है। इस टोल फ्री नंबर पर ‘वन नेशन कार्ड‘ सुविधा का उपभोग करने वाले राशन कार्ड लाभार्थी संपर्क कर अपनी शिकायत व समस्या दर्ज करा सकते हैं। और समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते है। इस योजना के अंतर्गत 31 मार्च 2021 तक पूरे देश में 81 करोड़ लाभार्थियों को इसका लाभ प्राप्त होगा।

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम 2020

केंद्रीय खाद्य मंत्री का कहना है की इस योजना को 1 जून 2020 तक पुरे देश में लागू कर दिया जायेगा और उन्होंने कहा है कि मौजूदा समय में राशन कार्ड के लिए 14 राज्यों में पीओएस मशीन कि सुविधा शुरू हो चुकी है जल्द ही अन्य राज्य में इस सुविधा को शुरू किया जायेगा | अगर कोई व्यक्ति एक राज्य से किसी दूसरे राज्य में रहने लगता है तो वह उस राज्य की किसी भी पीडीएस राशन की दुकान से अपने हिस्से का राशन ले सकता है |इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम को लागू करने के लिए  केंद्र सरकार को सभी पीडीएस दुकानों पर पीओएस लगाना होगा | खाद्य मंत्री रामविलास पासवान जी ने जून 2019 को  सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशो को इस One Nation One Ration Card Scheme को शुरू करने का 1 साल तक का समय दिया था |

एक देश एक राशन कार्ड नई अपडेट क्या आई है आइये जानते है 

जैसे की आप सभी लोग जानते है की कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है |जिसका असर रोज कमाने खाने वाले लोगो पड़ रहा है | इस समस्या को कम करने के लिए सरकार ने 1 जून से वन नेशन वन राशन कार्ड योजना में तीन और राज्य ओडिशा , सिक्किम और मिजोरम जुड़ गए हैं। इसके साथ ही उन राज्यों की संख्या 20 हो गयी है जहा पर एक देश राशन योजना को लागू कर दिया गया है | यह योजना लॉक डाउन के समय देश के लोगो के लिए काफी लाभकारी साबित होगी |इस एक देश एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा उन राशन कार्ड धारकों को होगा जो दूसरे राज्यों में नौकरी करते हैं।

राशनकार्ड धारक देश के किसी भी हिस्से की सरकारी राशन दुकान से कम कीमत पर अनाज खरीद सकेंगे। 1 जून तक 20 राज्य इससे जुड़ जाएंगे और मार्च 2021 तक यह देशभर में लागू हो जाएगी।’

एक देश एक राशन कार्ड स्कीम क्या है 

बिहार और उत्तर प्रदेश सहित पांच और राज्यों को ‘एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ योजना के साथ एकीकृत किया गया है। खाद्य मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि आज 5 और राज्यों – बिहार, यूपी, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और दमन और दीव को वन नेशन-वन राशन कार्ड सिस्टम के साथ एकीकृत किया गया है।एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड’ पहल के तहत, पात्र लाभार्थी देश में किसी भी उचित मूल्य की दुकान से राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (एनएफएसए) के तहत अपने पात्र अनाज का लाभ उठा सकेंगे।

एक देश एक राशन कार्ड योजना 2020 का उद्देश्य क्या है 

  • एक देश एक राशन कार्ड योजना का उद्देश्य है कि देश में फ़र्ज़ी राशन कार्ड को रोकने में मदद मिलेगी और देश में चल रहे भष्टाचार को रोका जा सकेगा |
  • इस योजना के लागू होने के बाद यदि कोई व्यक्ति एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है तो उसे राशन लेने में कोई परेशानी नहीं होगी |
  • इस एक राष्ट्र एक राशन कार्ड स्कीम का फायदा प्रवासी मजदूरों को अधिक होगा | इन लोगो को पूरी खाद्य सुरक्षा मिलेगी |
  • केंद्र सरकार इस योजना को समय रहते ही पुरे देश के विभिन्न राज्यों में आरम्भ करना चाहती है जिससे अधिक से अधिक लोग इस योजना का लाभ उठा सके |

 

एक देश एक राशन कार्ड के मुख्य तथ्य क्या है 

योजना का नाम एक देश एक राशन कार्ड योजना
इनके द्वारा पेश किया गया श्री राम विलास पासवान
उद्देश्य यह सुनिश्चित करने के लिए कि कोई भी व्यक्ति सब्सिडी वाले खाद्यान्न प्राप्त करने से वंचित न रहे  
योजना की समय सीमा 30 जून 2030
लाभार्थी अखिल भारतीय राशन कार्ड धारक
नोडल एजेंसी भारतीय खाद्य निगम

सबसे पहले इन राज्यों  में लागू की जाएगी योजना

आपको बता दे कि राशन कार्ड देश के 11 राज्यों में आधार से लिंक किया जा चुका है इन राज्यों में राशन का आवंटन प्वांइट ऑफ सेल के ज़रिये किया जा रहा है | यह योजना 1 जनवरी 2020 को आध्र प्रदेश ,तेलंगाना गुजरात, महाराष्ट्र ,हरियाणा ,झारखण्ड ,पंजाब ,कर्नाटक ,केरल त्रिपुरा ,राजस्थान आदि इन सभी 11 राज्यों मे लागू की जाएगी | खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग इस योजना को बढ़ावा देते हुए बड़े स्तर पर काम कर रही है |

एक देश एक राशन कार्ड योजना 2020 के लाभ क्या है आये जानते है 

  • देश का कोई भी व्यक्ति इस योजना का लाभ जून 2020 से उठा सकता है |
  • जो लोग गरीब है और रोजगार की  तलाश में एक राज्य से दूसरा राज्य में जाते है वह एक देश एक राशन कार्ड योजना का लाभ उठा सकते है |
  • हर उपभोक्ता अपने राशन कार्ड की सहायता से अपने हिस्से के अनाज को किसी भी पीडीएस दुकान से पारदर्शिता और बड़ी ही आसानी से खरीद सकता है |
  • देश के कई राज्यों में पीडीएस प्रणाली के एकीकृत प्रबंधन की शुरुआत बड़ी ही तेज़ी से चल रही है जिसके अंतर्गत आंध्र प्रदेश ,गुजरात ,कर्नाटक ,राजस्थान हरियाणा ,झारखण्ड ,केरल ,त्रिपुरा तेलंगाना ,महाराष्ट्र आदि राज्य शामिल है |

एक देश एक राशन कार्ड फॉरमैट

केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय पोटेबिलिटी प्राप्त करने के लिए विभिन्न राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को सरकार द्वारा राशन कार्ड जारी करने के लिए एक फॉर्मेट दिया गया है। सभी राज्य को वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के अंतर्गत इसी फॉर्मेट को फॉलो करके राशन कार्ड जारी करना है। वन नेशन वन राशन कार्ड फॉर्मेट लागू करने की विशेषताएं कुछ इस प्रकार है।

  • नए राशन कार्ड में आवश्यक न्यूनतम विवरण शामिल होगा लेकिन राज्य सरकार अपनी आवश्यकता के अनुसार अधिक विवरण भी जोड़ सकती है।
  • राशन कार्ड हिंदी और इंग्लिश में जारी किया जा सकता है। इसके अलावा स्थानीय भाषा में भी राशन कार्ड जारी किया जा सकता है।
  • वन नेशन वन राशन कार्ड ऑनलाइन फॉर्म में 10 अंकों का राशन कार्ड नंबर शामिल होगा। इन 10 अंकों के राशन कार्ड नंबर में पहले 2 अंक राज्य के कोड होंगे और अगले 2 अंक राशन कार्ड नंबर होंगे।
  • इन 4 अंकों के अलावा राशन कार्ड में घर के सदस्यों के लिए यूनिक आईडी बनाने के लिए राशन कार्ड नंबर के साथ और 2 अंकों का एक सेट जोड़ा जाएगा।

एक देश एक राशन कार्ड की चयन प्रक्रिया  क्या है 

जैसे की आप सभी लोग जानते है कि राशन कार्ड को सभी राज्य सरकार द्वारा दो तरह से जारी किये जाते है जिसमे पहली है एपीएल राशन कार्ड  और दूसरा है बीपीएल राशन कार्ड। लोगो की आय के आधार पर एपीएल और बीपीएल राशन कार्ड उनको दिए जाते है।  इसी प्रकार एक देश एक राशन कार्ड की भी चयन प्रक्रिया इसी आधार पर की जाएगी। एपीएल राशन कार्ड केटेगरी में कौन से लोग आते है और बीपीएल केटेगरी में कौन से लोग आते है इसकी पूरी जानकारी आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से बताने जा रहे है।

  • एपीएल  केटेगरी – इस केटेगरी में उन लोगो को रखा जाता है जो गरीब रेखा से ऊपर जीवन यापन कर रहे है। उन लोगो को एपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। अगर आप आर्थिक रूप से सक्षम है तो उन्हें एपीएल राशन कार्ड के लिए आवेदन करना होगा।
  • बीपीएल केटेगरी  – इस केटेगरी के अंतर्गत देश के उन लोगो को रखा जाता है जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे है। उन लोगो को बीपीएल राशन कार्ड प्रदान किया जाता है। अगर आप  गरीबी रेखा से नीचे आते है तो उन्हें  बीपीएल राशन कार्ड के लिए अप्लाई करना होगा।

एक देश एक राशन कार्ड योजना में आवेदन कैसे करे? आइये जानते है 

देश के किसी भी राशन कार्ड धारक को एक देश एक राशन कार्ड योजना के अंतर्गत किसी भी तरह का ऑनलाइन तथा ऑफलाइन आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है सभी राज्य  और केंद्र सरकार स्वयं उपलब्ध आकड़ो के अनुसार लाभार्थियों के राशन कार्ड फ़ोन पर आधार कार्ड से सत्यापित कर लिंक करेंगी | इसके बाद इंटीग्रेटेड मैनेजमेंट पब्लिक डिस्टीब्यूशन सिस्टम के अंतर्गत आकड़ो को उपलब्ध कराएगी | जिससे पात्र सभी नागरिक देश के किसी भी कोने से अपने हिस्से का राशन ले सकेंगे |